मध्यप्रदेश महाकौशल

अब घर चलाने में रीना दे रही अपना योगदान

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के अंतर्गत मिला 2 लाख का ऋण
हरदा /आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर होना महिला सशक्तिकरण का महत्चपूर्ण अंग है। समाज में कई ऐसी महिलाएं है जो घर चलाने के आर्थिक रूप से अपना योगदान दे रही है। हरदा की रीना शर्मा इसका एक उदाहरण है। 10 वी कक्षा तक शिक्षित रीना बताती है कि उनके पति ड्रायवर का काम करते है। स्वयं भी काम कर घर चलाने एवं बच्चों की अच्छी परवरिश में योगदान देने की इच्छा रीना के मन में थी। उन्हें थोड़ा बहुत सिलाई का काम आता था। बचत के पैसों से सिलाई मशीन खरीदकर उन्होंने पेटीकोट सिलाई का काम प्रारम्भ किया। शुरू में काम धीमा चल रहा था। अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए पूंजी उनके पास नहीं थी। ऐसे में उन्हें नगरपालिका हरदा के माध्यम से राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन द्वारा संचालित मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना की जानकारी प्राप्त हुई। रीना ने योजना के अंतर्गत आवेदन किया तथा ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स द्वारा उन्हें 2 लाख रुपए का ऋण प्राप्त हुआ जिसमें 60 हजार रुपये की मार्जिन मनी भी शामिल है। रीना बताती है कि प्राप्त राशि से उन्होंने अपने व्यवसाय को बढ़ाने के आवश्यक उपकरण तथा कच्चा माल खरीदा। धीरे धीरे उनका काम बढ़ता गया। आज रीना स्वयं पेटीकोट कटिंग एवं सिलाई करने के साथ ही काम की अधिकता होने पर अन्य महिलाओं को सिलाई का काम देती है। बैंक की 3100 रुपये की किश्त चुकाने तथा व्यवसाय की लागत निकालने के बाद वे 6-7 हज़ार रुपये प्रतिमाह का मुनाफा कमा रही है। उनके परिवार की आर्थिक स्थिति में सुधार आया है।रीना इस जनहितकारी योजना के लिए मध्यप्रदेश शासन के प्रति धन्यवाद ज्ञापित करती है।

Related posts

बैकलॉग के खाली पदों पर 15 दिन में हों भर्ती, राष्ट्रीय अनुसूचित जाति-जनजाति युवा संघ की मांग

Manager TehelkaMP

प्रदेश के 28 जिलों में सामान्य से अधिक वर्षा

gyan singh

इंदौर में 14 नवंबर से होगा भारत-बांग्लादेश के मध्य पहला टेस्ट मैच, तैयारियों को लेकर प्रशासन की बैठक

News Desk

Leave a Comment