Uncategorized

कमलेश तिवारी हत्याकांड में आया एक नया मोड़, कई महत्वपूर्ण बातों का हुआ खुलासा….

लखनऊ. हिंदू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्याकांड मामले में एटीएस ने नया खुलासा किया है एटीएस के मुताबिक, आरोपी अशफाक ने फर्जी फेसबुक प्रोफाइल बनाकर कमलेश से दोस्ती बढ़ाई थी और पार्टी में शामिल होने की बात कहकर 18 अक्टूबर की मीटिंग फिक्स की थी।

एटीएस ने बताया कि कमलेश के दफ्तर पहुंचने से पहले आरोपी ने फोन पर उनसे बात भी की थी। जब कमलेश दफ्तर पहुंचे, तब इसके बाद उन्होंने कमलेश की हत्या कर दी। पुलिस ने शनिवार को सूरत से तीन और बिजनौर से दो आरोपियों को गिरफ्तार किया। फरीद और अशफाक फरार हैं। साजिश दुबई में रची गई। हत्या को अंजाम देने के लिए सूरत में गैंग बनाई गई। इसके बाद लखनऊ जाकर हत्या की गई।

गुजरात एटीएस ने सूरत से मौलाना मोहसिन सलीम शेख, फैजान युनूस भाई जिलानी और रशीद शेख को गिरफ्तार किया। हमले की साजिश रशीद शेख ने दो महीने सूरत में रहकर रची थी। फैजान ने सूरत की दुकान से मिठाई खरीदी थी। वह दुकान की सीसीटीवी फुटेज में नजर आया है। कमलेश को मारने गए हमलावरों के हाथ में मिठाई के यही डिब्बे थे, जिनमें उन्होंने हथियार छिपा रखे थे।

कमलेश ने 2015 में पैगंबर मोहम्मद साहब को लेकर विवादित टिप्पणी की थी, जो उनकी हत्या का कारण बनी। हमले की जिम्मेदारी अल-हिंद ब्रिगेड संगठन ने ली। जिसने कमलेश के बयान को इस्लाम और मुसलमानों को बदनाम करने वाला बताया था।

Related posts

झाबुआ उपचुनाव का मतदान संपन्न, इंतजार जनादेश का। अनुसूचित जनजाति के लिए ये चुनाव बेहद खास…

News Desk

अयोध्या मामला: पंचपरमेश्वर मिलकर करेंगे फैसला। जानिए इनके जीवन का लघु परिचय…

News Desk

राजनाथ सिंह की पाकिस्तान को खुली चेतावनी,वजह जानकर हैरान रह जाएंगे आप..

News Desk

Leave a Comment