धर्म-अध्यात्म

करवा चौथ 2019 : जानिए आपके शहर में कितने बजे निकलेगा करवा चौथ का चांद

इस लिए मनाया जाता है करवाचौथ

करवा चौथ हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहार है। यह भारत के पंजाब, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, मध्य प्रदेश और राजस्थान का पर्व है। यह कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को मनाया जाता है। यह पर्व सौभाग्यवती (सुहागिन) स्त्रियां मनाती हैं। यह व्रत सुबह सूर्योदय से पहले करीब 4 बजे के बाद शुरू होकर रात में चंद्रमा दर्शन के बाद संपूर्ण होता है। करवा चौथ हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहार है। करवा चौथ व्रत में पूरे शिव परिवार की पूजा होती है। इसके अलावा चतुर्थी स्वरूप करवा की भी पूजा होती है। इस दिन खासतौर पर श्री गणेश जी का पूजन होता है और उन्हें ही साक्षी मानकर व्रत शुरू किया जाता है। करवा चौथ हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहार है। यह भारत के पंजाब, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, मध्य प्रदेश और राजस्थान का पर्व है। यह कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को मनाया जाता है। यह पर्व सौभाग्यवती (सुहागिन) स्त्रियां मनाती हैं। यह व्रत सुबह सूर्योदय से पहले करीब 4 बजे के बाद शुरू होकर रात में चंद्रमा दर्शन के बाद संपूर्ण होता है। करवा चौथ हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहार है। करवा चौथ व्रत में पूरे शिव परिवार की पूजा होती है। इसके अलावा चतुर्थी स्वरूप करवा की भी पूजा होती है। इस दिन खासतौर पर श्री गणेश जी का पूजन होता है और उन्हें ही साक्षी मानकर व्रत शुरू किया जाता है।

करवा चौथ व्रत में पूरे शिव परिवार की पूजा होती है। इसके अलावा चतुर्थी स्वरूप करवा की भी पूजा होती है। इस दिन खासतौर पर श्री गणेश जी का पूजन होता है और उन्हें ही साक्षी मानकर व्रत शुरू किया जाता है।

पूजा का मुहूर्त व विधि : इस साल ये तिथि 17 अक्टूबर को पड़ रही है। करवा चौथ को कर्क चतुर्थी भी कहते हैं। इस दिन को सुहागिनों के लिए महत्वपूर्ण दिन माना गया है। इस साल करवा चौथ पर 4 अद्भुत संयोग पड़ रहे हैं। ऐसा संयोग 70 सालों बाद पड़ रहा है। करवा चौथ का व्रत कठिन होता है क्योंकि व्रत अवधि में जल ग्रहण भी नहीं किया जाता है। शादीशुदा महिलाएं अपने पति की लंबी आयु की कामना से इस व्रत को रखतीं हैं। व्रत वाले दिन शाम के समय विवाहित महिलाएं भगवान शिव, माता पर्वती, गणेश और कार्तिकेय की विधिवत पूजा करती हैं। पूजन के बाद चंद्रमा को देखने और अर्घ्य देने के बाद ही व्रत खोलती है

किस शहर में कब दिखेगा चांद

1 स्‍थान- नई दिल्‍ली

चांद निकलने का समय- 8: 20 PM

2 स्‍थान- नोएडा/ग्रेटर नोएडा

चांद निकलने का समय- 8: 15 PM

3 स्थान- लखनऊ

चांद निकलने का समय- 8:08 PM

4 स्थान- वाराणसी

चांद निकलने का समय- 7:58 PM

5 स्‍थान- कानपुर

चांद निकलने का समय- 8: 09 PM

6 स्‍थान- गोरखपुर

चांद निकलने का समय- 8: 09 PM

7 स्‍थान- प्रयागरारज

चांद निकलने का समय- 8: 03 PM

8 स्थान- बरेली

चांद निकलने का समय- 8:08 PM

9 स्थान- मेरठ

चांद निकलने का समय- 8:14 PM

10 स्‍थान- आगरा

चांद निकलने का समय- 8: 16 PM

11 स्‍थान- बहराइच

चांद निकलने का समय- 8: 00 PM

12 स्‍थान- फैजाबाद

चांद निकलने का समय- 7: 59 PM

13 स्‍थान- झांसी

चांद निकलने का समय- 8: 18 PM

14 स्थान- देहरादून

चांद निकलने का समय- 8:10 PM

15 स्थान- चंडीगढ़

चांद निकलने का समय- 8:14 PM

16 स्थान- अमृतसर

चांद निकलने का समय- 8:20 PM

17 स्‍थान- अंबाला

चांद निकलने का समय- 7:46 PM

18 स्‍थान: भटिंडा

चांद निकलने का समय- 8:23 PM

19 स्थान – गुरुग्राम

चांद निकलने का समय- 8:21 PM

20 स्थान- पटना

चांद निकलने का समय- 7:49 PM

21 स्‍थान- गया

चांद निकलने का समय- 7: 21 PM

22 स्‍थान- मुजफ्फरपुर

चांद निकलने का समय- 7: 47 PM

23 स्‍थान- भागलपुर

चांद निकलने का समय- 7: 42 PM

24 स्थान- रांची

चांद निकलने का समय- 7:52 PM

25 स्थान- जम्‍मू

चांद निकलने का समय- 08:18 PM

26 स्थान- शिमला

चांद निकलने का समय- 08:12PM

27 स्थान- भोपाल

चांद निकलने का समय- 8:25PM

28 स्थान- इंदौर

चांद निकलने का समय- 8:32 PM 

29 स्‍थान- जबलपुर

चांद निकलने का समय- 8: 14 PM

30 स्‍थान- रायपुर

चांद निकलने का समय: 8: 11 PM

31 स्थान- जयपुर

चांद निकलने का समय- 8:29 PM

32 स्थान- जोधपुर

चांद निकलने का समय- 8:38 PM

33 स्थान- श्री गंगानगर

चांद निकलने का समय- 8:28 PM 

34 स्‍थान- अजमेर

चांद निकलने का समय- 8: 31 PM

35 स्‍थान- कोटा

चांद निकलने का समय- 8: 28 PM

36 स्‍थान- अलवर

चांद निकलने का समय- 8: 21 PM

37 स्‍थान- बूंदी

चांद निकलने का समय: 8: 27 PM

38 स्‍थान- बीकानेर

चांद निकलने का समय- 8: 33 PM

39 स्थान- मुंबई

चांद निकलने का समय- 8:54 PM

40 स्थान- पुणे

चांद निकलने का समय- 8:47 PM

41 स्थान- अहमदाबाद

चांद निकलने का समय- 8:45 PM

42 स्थान- गांधीनगर

चांद निकलने का समय- 8:44 PM

43 स्‍थान- राजकोट

चांद निकलने का समय- 8: 54 PM

44 स्‍थान- सूरत

चांद निकलने का समय- 8: 47 PM

45 स्‍थान- भुवनेश्‍वर

चांद निकलने का समय- 7: 55 PM

46 स्थान- कोलकाता

चांद निकलने का समय- 07:45 PM

47 स्‍थान- दार्जिलिंग

चांद निकलने का समय- 7: 34 PM

48 स्थान- गुवाहाटी

चांद निकलने का समय- 07:21 PM

49 स्थान- बंगलुरु

चांद निकलने का समय- 8:44 PM

50 स्थान- चेन्‍नई

चांद निकलने का समय- 8:32 PM

51 स्थान- हैदराबाद

चांद निकलने का समय- 8:33 PM

Related posts

सूफ़ी सन्त ईश्वर को ‘प्रियतमा’ एवं स्वयं को ‘प्रियतम’ मानते थे…

News Desk

जीवन की विपत्तियों से हों परेशान और हो गए हों ज्योतिषीय उपायों से निराश,तो करें यह उपाय……

News Desk

राशिफल 29 अक्टूबर : जानिए कैसा होगा आपका मंगलवार ?

News Desk

Leave a Comment