उत्तर प्रदेश ब्रेकिंग न्यूज़ राजनीति वायरल खबर

मुस्लिम पक्ष ने कहा- फैसले का सम्‍मान करते हैं, लेकिन संतुष्‍ट नहीं है….

नई दिल्‍ली. सीजेआई रंजन गोगोई की अध्‍यक्षता वाली पांच जजों की पीठ ने फैसले में कहा कि विवादित जमीन रामलला विराजमान को दी जाए. साथ ही उन्‍होंने सुन्‍नी वक्‍फ बोर्ड को अयोध्‍या में कहीं भी पांच एकड़ जमीन देने का फैसला दिया.

इस पर सुन्‍नी वक्‍फ बोर्ड के वकील जफरयाब जिलानी ने असंतुष्टि जताई. उन्‍होंने कहा, ‘हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्‍मान करते हैं. लेकिन हम इससे संतुष्‍ट नहीं है. इसे लेकर हम आगे की कार्रवाई के संबंध में विचार करेंगे.’

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) ने शनिवार को कहा कि वह विवादित जमीन को मंदिर के लिए देने से जुड़े फैसले से असंतुष्ट है और इस मामले में पुनर्विचार याचिका दायर करने पर विचार किया जाएगा. बोर्ड के सचिव और वकील जफरयाब जिलानी ने संवाददाताओं से कहा, ‘ फैसले के कुछ बिंदुओं खासकर जमीन देने की बात से हम अंसतुष्ट हैं. हम विचार करेंगे कि पुनर्विचार याचिका दायर करनी हैं या नहीं.’

Related posts

महाराष्ट्र में फ्लोर टेस्ट पर कल आएगा फैसला।

News Desk

शपथ लेने के बाद सत्यपाल मलिक का बयान। कश्मीर जैसे समस्याग्रस्त इलाके में मुद्दों से सफलतापूर्वक निपटा…

News Desk

कांग्रेस कमेटी के संचार विभाग ने जारी की सूचना। राम मंदिर के फैसले पर टीवी डिबेट में नहीं जाएंगे कांग्रेसी…

News Desk

Leave a Comment