अंतर्राष्ट्रीय

श्रीलंका के प्रधानमंत्री ने कहा, ‘CAA भारत का आंतरिक मसला’

श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे ने CAA के मुद्दे पर भारत को अपना समर्थन दिया हैं। पांच दिन के भारत दौरे पर आए महिंदा राजपक्षे से जब नागरिकता संशोधन कानून से तमिलों को बाहर रखने पर सवाल पूछा गया उन्होंने कहा कि ये भारत का आंतरिक मुद्दा है और श्रीलंका में रह रहे लोग जब चाहें तब लौट सकते हैं। CAA पर टिप्पणी करते हुए श्रीलंका के पीएम महिंदा राजपक्षे ने कहा, “ये भारत का आंतरिक मसला है, श्रीलंका के लोग जब चाहे लौट सकते हैं। उनके घर वहां हैं, वे जब चाहें तब वापस आ सकते हैं, हमें कोई दिक्कत नहीं है। हाल ही में 4 हजार लोग वापस लौटे हैं, ये सब इस पर निर्भर करता है कि वे क्या चाहते हैं। ” वही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उम्मीद जगाई की, श्रीलंका संविधान के 13वें संशोधन को पूरी तरह से लागू करेगा और स्थानीय निकायों और सरकारों को सत्ता सौंपेगा। उन्होंने कहा कि इसके लिए श्रीलंका के संविधान के 13वें संशोधन के साथ सुलह की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने की जरूरत है।

Related posts

आर्टिकल 370 हटने पर मरियम नवाज ने इमरान से कहा- ट्रंप ने आपको मूर्ख बनाया…..

Manager TehelkaMP

एक सप्ताह में चीन में दूसरा भूकंप..इस बार 5.4 तीव्रता, 19 लाेग घायल

News Desk

अमरीका में कश्मीरी पंडितों ने किया ‘वाशिंगटन पोस्ट’ के खिलाफ प्रदर्शन

gyan singh

Leave a Comment