लाइफस्टाइल हेल्थ

एंटीआक्‍सीडेंट गुणों से भरपूर है कपूर

तहलका एमपी-सीजी। कपूर का उपयोग केवल पूजन के लिए नहीं किया जाता है बल्कि कपूर में कई ऐसे औषधीय गुण होते है जो इसे आयुर्वेदिक औषधी बनाते है, सुंदर और गोरी त्वचा हर किसी का सपना होता है। और इसे प्राप्त करने के लिए हम ना जाने कितने प्रयत्न करते हैं, लेकिन आपको यह जान कर हैरानी होगी कि हमारी सुंदरता को बढ़ाने के लिए कपूर के फायदे अनेक हैं। यह आपकी त्वचा, बाल और स्‍वास्‍थ्‍य के लिए गुणकारी होता है। इसमें उपस्थित पोषक तत्व हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी लाभकारी होते है। कपूर में एंटीबैक्‍टीरियल, एंटीऑक्‍सीडेंट गुण होते है। यह हमें डायरिया, अस्थमा, और गठिया जैसे रोगों से बचाता है।

कपूर के फायदे
कपूर की मदद से आप अपनी खूबसूरत त्वचा वापस पा सकते हैं। कपूर एंटीआक्‍सीडेंट गुणों से भरपूर होता हैं यह फुंसी और मुंहासों को होने से रोकने में मदद करते हैं।

कपूर के लाभ फटी एड़ियों को करें ठीक
क्‍या आप अपनी फटी ए‍ड़ीयों को छिपाने के लिए कई प्रकार के जूते और मोजे का उपयोग करते हैं। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कितने अच्‍छे कपड़े पहने हुए हैं, फटी एड़ीया आपके आत्‍मविश्‍वास को कम कर सकती है। लेकिन कपूर आपकी फटी एड़ीयों को ठीक कर सकता है। फटी एड़ियों से राहत के लिए, आपको अपने पैरों को कपूर और पानी के मिश्रण में भिगोना होगा और फिर पैरों को साफ करना होगा। इसके बाद आप उन पर एक क्रीम माइस्‍चराइजर या पेट्रोलियम जेली लगा सकते हैं। यह आपकी त्‍वचा को नम रखेगा और दरारें होने से रोक देगा।

कपूर के औषधीय गुण त्वचा की जलन शांत करें
त्‍वचा की जलन दूर करने के लिए कपूर बहुत ही प्रभावी होता है। कपूर को पानी में घोलने के बाद इसे त्वचा के उस स्थान पर लगायें जहां पर जलन हो रही हो। कपूर विशेष रूप से अत्‍यधिक गर्मी और पसीने के कारण होने वाली त्वचा की जलन के लिए अच्छा होता है। कपूर के एंटीआक्‍सीडेंट गुण स्किन में जलन के खिलाफ कार्य करते हैं।

नारियल तेल और कपूर के फायदे संक्रमण दूर करने में
ठंडा और शांत प्रभाव के कारण कपूर का उपयोग कई त्वचा से सम्बंधित समस्याओं को दूर करने में किया जाता है। कपूर फंगल और बैक्‍टीरिया संक्रमण के उपचार के लिए लाभकारी होता है।

कपूर के फायदे बालों के लिए
बालों का गिरना अधिकतर लोगों की समस्या है। कपूर के तेल का उपयोग बालों को नुकसान पहुंचाए बिना इनके गिरने की दर को कम कर सकता है।
कपूर का तेल बालों की जड़ो को मजबूत करता है। कपूर के तल के साथ अंडे या दही का उपयोग आपके बालों की आवश्यक पोषक तत्वों की कमी को पूरा करता है। कपूर तेल न केवल बाल विकास को बढ़ावा देता है, बल्कि यह बालों का झड़ना भी कम करता है।

बालों को लम्बा करने के लिए कपूर के फायदे
लम्बे और घने बाल कौन नहीं चाहता है। लेकिन हम सभी जानते हैं कि ऐसा कहना आसन है और करना कठिन होता है। आज के प्रदूषित वातावरण में लंबे बाल एक ख्वाब की तरह हैं। आपकी इस समस्या का समाधान कपूर के रूप में हमारे पास है ।जब कपूर के तेल को आवश्यक तेलों के साथ मिलाया जाता है, तो बालों के बढ़ने की दर को बढ़ावा दे सकता है। आप किसी भी आवश्यक तेल जैसे की नारियल का उपयोग कर सकते हैं।

नारियल तेल में कपूर के फायदे जूँ को मारने में
क्‍या आप कुछ तत्काल राहत के लिए अपने सिर को खरोंच रहे हैं, तो शायद आपको जूँ हो सकते हैं। यदि एंटी-जूँ शैम्‍पू आपकी मदद करने में असफल हैं तो कपूर को आजमाएं। वे जूँ को मारने में उपयोगी पाए गए हैं।
पानी में कपूर का तेल मिला कर स्‍नान किया जा सकता है। यह एक अच्‍छी सफाई और कीटाणुशोधक ऐजेंट के रूप में कार्य करता है। यह जूँ भी मार सकता है और खुजली को भी रोक सकता है।

कपूर के गुण एंटीआक्‍सीडेंट से भरपूर

कपूर में एंटीआक्‍सीडेंट गुण होते हैं जो शरीर में ऑक्‍सीकरण की प्रक्रिया को कम करने में मदद करते हैं, जिससे मुक्त कणों को कम करने में मदद मिलती है जो ऊतको के टूटने, लीवर की बीमारियों और कार्डियोवैस्‍कुलर परेशानीयों जैसे स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी मुद्दों के लिए जिम्‍मेदार हैं।

गैस्ट्रिक परेशानी के लिए कपूर खाने के लाभ
अनियमित खाने की आदतों और खाने-पीने के गलत तरीकों के कारण हम में अधिकांश लोगों को पेट की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। यदि आपको इस प्रकार की समस्‍या हो तो कपूर का उपयोग करें यह आपकी समस्‍या को ठीक कर सकता है।पेट की समस्या बाले लोगों को कपूर से राहत मिलती है। यह गैस के गठन को कम करने में मदद करता है।

कपूर के फायदे दर्द को कम करने में
हम सभी दर्द या सूजन से छुटकारा पाने के लिए कई प्रकार के बाम और स्‍प्रे को लगाते हैं, लेकिन क्‍या आप जानते थे कि इनमें से अधिकतर बाम कपूर से बने होते हैं। दर्द से राहत के लिए विशेष रूप से पीठ दर्द के लिए कपूर तेल का उपयोग किया जा सकता है। इसके एंटीआक्‍सीडेंट गुणों के कारण यह मांसपेशीय तनाव को दूर करने में मदद करता है।

कपूर का तेल गर्भवती महिलाओं के लिए
कपूर गर्भवती महिला का सबसे अच्छा दोस्त होता है क्योंकि यह मांसपेशी की ऐंठन को कम करता है। पेट पर हल्के हाथ से मलने से पेट का दर्द शांत होता है और आपको राहत मिलती है। यह वास्तव में एक बहुत कुशल दर्द रोधक होता है।

सर्दी खांसी को रोकने में कपूर सूंघने के फायदे

शर्दी और खांसी के खिलाफ कपूर बहुत ही प्रभावी माना जाता है। इसमें कोई आश्‍चर्य की बात नहीं है कि इसका उपयोग भाप लेने और बाम की तरह किया जाता है।खांसी और कफ से छुटकारा पाने के लिए कपूर का उपयोग करने के कई तरीके हैं, जिनमें भाप के रूप में इनहेलिंग, बाम की तरह मलना शामिल है। दस मिनट के लिए गर्म पानी में कपूर को मिला कर भाप के माध्‍यम से इसे सांस द्वारा लेना सर्दी दूर करने के लिए अच्छा काम कर सकता है। यह गले की जलन को भी ठीक कर सकता है।

कपूर के लाभ दिल के इलाज में –कपूर अन्‍य दवाओं के साथ मिलकर कार्डियक विफलता का इलाज करने के लिए उपयोग जाता है। यह निम्‍न लिखित स्थितयों के इलाज में भी उपयोगी है: खसरा , फ्लू , भोजन विषाक्तता, मिरगी आदि।

कपूर के नुकसान –
त्‍वचा, बाल और समग्र स्‍वास्‍थ्‍य के लिए कपूर के गुण बहुत ही फायदेमंद होते हैं, लेकिन यह हमारे लिए तभी फायदेमंद हो सकता है जब हम इसका उपयोग सीमित मात्रा में करें। यदि हम इसका अधिक मात्रा में उपयोग करते है तो परिणाम स्‍वरूप हमें कुछ दिक्‍कतें हो सकती हैं जैसे कि शरीर के तापमान में कमी और उल्‍टी आदि। कपूर उत्पादों को बच्चों से दूर रखना चाहिए, क्योंकि इसकी अधिक मात्रा का सेवन करने से बच्चों में दौरे पड़ सकते हैं। आमतौर पर अधिक मात्रा में लेने के लक्षण तुरंत ही दिखाई देते हैं। कपूर का अधिक मात्रा में सेवन करने से आंखों, त्वचा और श्‍लेष्‍म झिल्‍ली (mucous membrane) में जलन हो सकती है। इससे दस्त, मितली, सिरदर्द यहां तक की झटके भी लग सकते है। इसका सेवन अधिक मात्रा में जहरीला हो सकता है, इसलिए इसका मौखिक रूप से सेवन करने से बचना चाहिए।

Related posts

जानिए गरम पानी पीने से कैसे कम हो सकता है आपका वजन…

News Desk

बुखार और कब्‍ज के लिए लाभकारी है ये कड़वा टॉनिक

News Desk

अनेक रोगों के लिए फायदेमंद होती है बबूल गोंद ..!

News Desk

Leave a Comment