मध्यप्रदेश

कांग्रेस प्रत्याशी को लेकर विवादित बयान देने पर नेता प्रतिपक्ष भार्गव के खिलाफ केस दर्ज….

झाबुआ,तहलका एमपीसीजी। मध्यप्रदेश के झाबुआ विधानसभा उपचुनावमें कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया को पाकिस्तान का प्रतिनिधि बताने को लेकर नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव के खिलाफ कोतवाली थाने में एफआईआर दर्ज की गई है। रिटर्निंग ऑफिसर एसडीएम अभय खराड़ी के प्रतिवेदन पर पुलिस ने लोक प्रतिनिधित्व की विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है।

सोमवार को झाबुआ विस उपचुनाव में नामांकन रैली के दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए भार्गव ने विवादित बयान दिया था। मामले में भार्गव ने कहा कि एफआईआर के खिलाफ हाईकोर्ट जाऊंगा, ये मानव अधिकारों का हनन है। उन्होंने कहा- मैं किसी से विनय नहीं करूंगा, न किसी के आगे झुकूंगा।  भार्गव ने कहा कि मैंने विचारों के आधार पर बयान दिया था, जिसे गलत तरीके से लिया गया। वहीं मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बयान पर कहा कि यह गोपाल भार्गव जी का अपना मनोरंजन है। वित्तमंत्री तरुण भानोत ने कहा कि 8 बार के विधायक इस प्रकार का बयान देंगे। यह सोचा नहीं था। सत्ता से बाहर होने के बाद भार्गव व्याकुल हो रहे हैं। ईश्वर उन्हें सद्बुधि दे।

उपचुनाव के लिए कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया और भाजपा प्रत्याशी भानू भूरिया ने सोमवार को नामांकन दाखिल किया था। भानू भूरिया के समर्थन में आयोजित रैली में नेता प्रतिपक्ष ने कहा था कि यह चुनाव दो पार्टी नहीं, भारत-पाकिस्तान के बीच है। अगर भाजपा प्रत्याशी की पराजय हुई तो हिंदुस्तान हार जाएगा, जबकि कांग्रेस की जीत पाकिस्तान की जीत कहलाएगी।

मामले में कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया ने कहा कि भाजपा के नेताओं के दिमाग का दिवाला निकल गया है। जब-जब चुनाव आते हैं तो उनका पाकिस्तान प्रेम उमड़ने लगाता है। इसके पहले चुनाव में गुमान सिंह ने कहा था कि आजादी के बाद यदि जिन्ना भारत का प्रधानमंत्री होता तो हिंदूतंत्र कहां से कहां होता। अब गोपाल भार्गव हिंदुस्तान और पाकिस्तान की बात कर रहा है। कांतिलाल भूरिया के खून का एक-एक कतरा देश के लिए न्यौछावर है। हमारी स्व. पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने पाकिस्तान के दो टुकड़े करवाए। यह काम कांग्रेस ने किया है। गोपाल भार्गव ने आदिवासियों का अपमान किया है। उन्हें बयान पर माफी मांगनी चाहिए। मैं चुनाव आयोग से कड़ी कार्रवाई की मांग करता हूं।

भार्गव के इस बयान के बाद कांग्रेस की शिकायत पर चुनाव आयोग ने कलेक्टर से रिपाेर्ट मांगी। कांग्रेस ने अपनी शिकायत में कहा कि भार्गव ने कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया को पाकिस्तान का प्रतिनिधि बोल उनका अपमान किया। वे भावनाओं को भड़काकर उपचुनाव प्रभावित करना चाहते हैं। यह अपराध की श्रेणी में आता है। कांग्रेस ने भार्गव पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

इसलिए हो रहे उपचुनाव

हाल ही में लोकसभा चुनाव में भाजपा ने झाबुआ विधायक गुमान सिंह डामोर को झाबुआ-रतलाम संसदीय सीट ने अपना प्रत्याशी बनाया था। डामाेर ने इस चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया को बड़े अंतर से पराजित किया था। सांसद बनने के बाद उन्होंने विधायक पद से त्यागपत्र दे दिया था।

Related posts

ऊर्जा मंत्री के कार्यक्रम में ही चार बार बत्ती हुई गुल..बिजली की समस्या जानने पहुंचे थे मंत्री महाेदय

News Desk

ट्रेडमार्क कार्यालय के अधिकारी पीएम के सपने को लगा रहे पलीता…

News Desk

बैतूल जिले की घोघरी और वर्धा समूह नल-जल योजना स्वीकृत – पांसे

News Desk

Leave a Comment