देश

24 गुना फीस बढ़ाई जाने वाली खबरों पर ये कहा सीबीएससी ने…

एजेंसी। कुछ समय पहले मीडिया में ऐसी खबरें आई थी कि सीबीएससी बोर्ड ने दिल्ली में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के छात्र-छात्राओं की एग्जाम फीस बढ़ा दी हैं। इस पर बोर्ड ने सफाई देते हुए कहा कि फीस हर जगह एक समान है। सिर्फ दिल्ली सरकार अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के छात्र-छात्राओं के लिए भुगतान करती है। बढ़ी हुई फीस के मामले में भी दिल्ली सरकार अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के छात्र-छात्राओं के लिए भुगतान कर सकती है। पेमेंट का तरीका दिल्ली सरकार और छात्रों का आंतरिक मसला है।

सीबीएसई ने कहा कि यह स्पष्ट किया जा चुका है कि परीक्षा की फीस पूरे देश में बढ़ाई गई है न कि सिर्फ दिल्ली में यह बढ़ोतरी 5 साल के बाद की गई है। सीबीएसई से संबद्ध देश-विदेश के सभी स्कूलों में छात्रों की सभी श्रेणियों के लिए यह बढ़ोतरी की गई है। देश के सभी छात्रों के लिए यह फीस 750 थी, जो बढ़ा कर 1500 रुपये की गई है। दृष्टिहीन छात्रों के लिए कोई शुल्क नहीं है। केवल दिल्ली के लिए एक विशेष व्यवस्था के रूप में, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति छात्रों के लिए फीस 350 रुपये हुआ करती थी। इन 350 रुपयों में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति छात्र मात्र 50 रुपये देते थे और बाकी के 300 रुपये दिल्ली सरकार चुकाती थी। दिल्ली में जनरल कैटगरी के छात्र देश के अन्य हिस्सों के छात्रों की तरह 750 रुपये चुकाते थे, जिन्हें अब 1500 रुपये देने होंगे।

Related posts

सिरफिरे आशिक ने की महिला की चाकू से गोदकर हत्या

News Desk

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पकड़े मप्र के दाे बड़े हथियार तस्कर, खुद बनाकर करते थे सप्लाई

News Desk

‘कांग्रेस के कुछ विधायक हमारे संपर्क में हैं, लेकिन हम (विधायक) तोड़कर सरकार नहीं बनाएंगेः शिवराज

News Desk

Leave a Comment