देश

CJI बोबड़े का सवाल “जेलों में भीड़-भाड़ बहुत रहती है, ऐसे में जेलों में क्या हालात हैं?”

भारत में जहा हर जगह कोरोना को लेकर प्रीकॉशन्स लिए जा रहे है, स्कूल कॉलेज शूटिंग्स सब बंद कर दी गयी है ताकि भीड़ भाड़ वाली जगह से बचा जा सके तो वही जेल को नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता। सुप्रीम कोर्ट ने सभी जेलों के DG और सभी राज्यों के मुख्य सचिव और समाज कल्याण विभाग के प्रमुख को नोटिस जारी किया। सुप्रीम कोर्ट ने पूछा है कि जेलों में COVID-19 से पैदा हुई वर्तमान स्वास्थ्य संकट से निपटने के लिए निर्देश क्यों ना दिए जाएं। एक याचिका की सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एस. ए. बोबड़े ने जेलों में COVID-19 से पैदा हुई परिस्थितियों पर चिंता जताई है। उन्होंने पूछा, “जेलों में भीड़-भाड़ बहुत रहती है, ऐसे में जेलों में क्या हालात हैं?” चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया आगे कहा, “यदि जेल में कोरोना का प्रकोप होता है तो यह बहुत बड़ी संख्या को लोगों को प्रभावित करेगा और यह दूसरों को भी कोरोना वायरस फैलाने का केंद्र बन सकता है। जेल में कोरोना की बीमारी फैल सकती है और वहां से बीमारी बाहर आ सकती है इसीलिए जेल की हालत बेहतर करनी होगी। “

Related posts

बसपा में भी परिवारवादः मायावती ने भाई को उपाध्यक्ष तो भतीजे को बनाया नेशनल कोऑर्डिनेटर

News Desk

राहत सामग्री लेकर जा रहा हेलिकॉप्टर क्रैश..पायलट समेत 3 की मौत…

News Desk

जम्मू-कश्मीर से जुड़े ये बड़े फैसलो का एलान कर सकती हैं मोदी सरकार

Manager TehelkaMP

Leave a Comment