इंदाैर मध्यप्रदेश

मात्र दो सौ रुपए में बदल देते थे मोबाइल के आईएमईआई नंबर…

तहलका एमपी न्यूज। चोरी व लूट के मोबाइल के आईएमईआई नंबर बदलकर उन्हें दोबारा मार्केट में बेचने वाले शातिर गिरोह के चार बदमाशों को इंदौर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। ये महज 200 रुपए में एक सॉफ्टवेयर के जरिए आईएमईआई नंबर बदल देते थे, जिससे देश की आंतरिक सुरक्षा को भी खतरा हो रहा था। इनके कब्जे से कुल 192 मोबाइल मिले हैं। गिरोह का सरगना जितेंद्र राजपूत सॉफ्टवेयर इंजीनियर है। वह मरीमाता चौराहे के पास किराए के मकान में बैठकर नंबर बदलने का काम कर रहा था। एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र ने बताया कि गत दिनों यह बात सामने आई थी कि बदमाश लूट के मोबाइलों को आईएमईआई नंबर बदलवाकर चला रहे हैं। इसके बाद विशेष टीम बनाकर आरोपी जितेंद्र राजपूत निवासी रीवा, राजू सेंगर निवासी भिंड, संजय लाल पटेल निवासी रीवा और भरत वासवानी को पकड़ा तो उनके कब्जे से आईएमईआई नंबर बदले हुए चोरी व लूट के करीब 192 मोबाइल मिले।

यूट्यूब से सीखा : आरोपी जितेंद्र ने बताया कि वह पुणे में सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा था। इससे पहले कुछ समय उसने जेल रोड पर भी काम किया है। उसने बताया कि यह तरीका उसने यूट्यूब से सर्च कर सीखा था। वर्तमान में वह अपने पास के सॉफ्टवेयर से ही आईएमईआई नंबर बदल देता था।

Related posts

अतिथि शिक्षकों ने शिक्षा मंत्री के बंगले पर दिया धरना, मेरिट से नहीं अनुभव के आधार पर हो भर्ती

Manager TehelkaMP

पानी में डूबा शाजापुर का गांव.. इंदौर में भी कई क्षेत्रों में भरा पानी

Administrator TehelkaMP

हाईकोर्ट से प्रो. कुठियाला की अग्रिम जमानत याचिका खारिज….

News Desk

Leave a Comment