इंदाैर मध्यप्रदेश

50 लाख का बिल पास कराने इंजीनियर ने मांगी 3 लाख की रिश्वत…लोकायुक्त ने किया गिरफ्तार..

तहलका एमपी सीजी। इंदौर में पीडब्ल्यूडी के इंजीनियर धर्मेंद्र जायसवाल ने रोड कॉन्ट्रेक्टर के 50 लाख रुपए बकाया पेमेंट करने के एवज में रिश्वत मांगी थी। ठेकेदार ने लोकायुक्त में शिकायत की थी जिसके बाद इंजिनियर को उसी के घर से रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया है।

दरअसल खरगोन के रहने वाले रोड कॉन्ट्रेक्टर मेहरुद्दीन ने 4 डिवीजन खरगोन, बड़वानी, धार, इंदौर के मऊ जुलवानिया रोड मार्ग के निर्माण का ठेका लिया था। पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन यंत्री धर्मेंद्र जायसवाल इस कॉन्ट्रेक्ट के जिम्मेदार अधिकारी है।रोड जिसकी निर्माण लागत 32 करोड़ थी और 29 किमी का निर्माण करना था। कॉन्ट्रेक्टर 6 महीने पहले ही रोड़ का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है और पिछले 3 महीने से बकाया 60 लाख रुपए के लिए कॉन्ट्रेक्टर परेशान हो रहा था जबकि उसने निर्माण कार्य के पूरे बिल लगा दिए हैं।

अधिकारी धर्मेंद्र जायसवाल पिछले कई दिनों से बकाया रुपया पास करने के लिए परेशान कर रहा था, उसके बाद उसने अपनी मंशा बताई और साढ़े 3 लाख रुपए कि मांग की जबकि कॉन्ट्रेक्टर 3 लाख रुपए देने के लिए भी तैयार हो गया था, लेकिन भ्रष्ट अधिकारी को पूरे रुपयों की डिमांड थी जिसके बाद पीड़ित ने लोकायुक्त में शिकायत की जिसके बाद लोकायुक्त ने इंजीनियर धर्मेंद्र जायसवाल को रंगे हाथ पीडब्ल्यूडी ऑफिस के पीछे शासकीय निवास पर रिश्वत लेते पकड़ा। लोकायुक्त पुलिस ने भ्रस्टाचार अधिनियम के तहत कार्रवाई की है।

Related posts

अश्लील हरकत करते पकड़ाया, लोगों ने जमकर पीटा

News Desk

शहर की विभिन्न समस्याओं को लेकर आमजन ने दिया अपर कलेक्टर को ज्ञापन

Administrator TehelkaMP

जबलपुर में बीजेपी नेता की हत्या कर शव रेत में दबाया..ऊपर लिख दिया ‘दि एंड’

News Desk

Leave a Comment