इंदाैर मध्यप्रदेश

अश्लील वॉटसएप ग्रुप पर जोड़ा, शिकायत की तो किया तबादला

इंदौर,तहलका एमपी-सीजी। एक महिला को अफसरों ने वॉटसएप के अशलील ग्रुप में जोड़ दिया, इसकी शिकायत पर उसी महिला का अफसरों ने एक नहीं दो बार तबादला भी कर दिया। यह मामला राष्ट्रीयकृत बैंक की महिला मुख्य प्रबंधक के साथ हुआ है। अश्लील हरकत और लैंगिक उत्पीड़न मामले में पुलिस ने कार्यकारी निदेशक, आंचलिक उप महाप्रबंधक सहित पांच बड़े अफसरों के विरुद्ध केस दर्ज किया है। पीड़िता के अनुसार वह 29 सितंबर 2016 से 14 दिसंबर 2017 तक इंदौर की एक शाखा में पदस्थ रही हैं। इस दौरान द्विवेदी आंचलिक कार्यालय भोपाल में उपमहाप्रबंधक था। वह शासकीय कार्य के बहाने होटलों में मिलने के लिए बार-बार भोपाल बुलाया करता था और इंकार करने पर वह विभागीय कार्रवाई की धमकी भी देने लगा था। उसने ऐसे व्हाट्सएप ग्रुप में भी जोड़ लिया, जिसमें अश्लील वीडियो, मैसेज आदि पोस्ट किए जाते थे। ग्रुप से लेफ्ट होने पर द्विवेदी बार-बार जोड़ लेता था। वह बैंक कार्य समाप्त होने के बाद किसी भी बहाने से कॉल कर बातें करता था। 
पीड़िता का आरोप है कि उनका एक दिन में दो बार तबादला किया गया। कार्यकारी निदेशक फरीद अहमद को शिकायत करने पर उसने भी नौकरी छोड़ने पर मजबूर किया। एससी क्वात्रा (महाप्रबंधक) से शिकायत करने पर मेरा ऐसी जगह तबादला किया गया, जहां सुविधा घर भी नहीं था। उसने द्विवेदी का बचाव किया और सार्वजनिक रूप से कहा कि वह (पीड़िता) खुद टॉयलेट बनवा सकती है। उसके पास 50 हजार रुपए खर्च करने का अधिकार है। पीड़िता ने नायक व महरोत्रा पर भी अन्य आरोपितों की मदद करने और झूठे मामलों में फंसाने का आरोप लगाया है। उसने हाई कोर्ट में भी फर्जी दस्तावेज बनाने के संबंध में याचिका दायर की है। साथ में कार्यस्थल पर लैंगिक उत्पीड़न समिति के समक्ष भी शिकायत की है।

Related posts

मप्र के बाढ़ पीड़ित किसानों काे 30 हजार रुपए प्रति हैक्टेयर तक मुआवजा :सीएम कमलनाथ

gyan singh

डायल 100 के नहर में गिरने से हुआ भीषण हादसा,दो पुलिसकर्मियों की दर्दनाक मौत

News Desk

मंटो हॉल में आयोजित स्टीम कॉन्क्लेव में बोले कमलनाथ। विपक्ष पर भी साधा निशाना…

News Desk

Leave a Comment