दिल्ली देश

भीमा कोरेगांव केस में प्रोफेसर के घर छापा, बिना सर्च वारंट 6 घंटे चली जांच

नई दिल्ली, तहलका एमपी-सीजी। भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में पुणे पुलिस ने नोएडा में रह रहे दिल्ली विश्वविद्यालय के एक प्रोफेसर के घर मंगलवार को छापेमारी की। टीम ने उनके फ्लैट में करीब छह घंटे तक छापेमारी की और कुछ इलेक्ट्रॉनिक उपकरण व कागजात जब्त किए। पुणे क्राइम ब्रांच के डीसीपी बच्चन सिंह, एसीपी शिवाजी पवार के नेतृत्व में पुणे पुलिस की टीम सुबह साढ़े छह बजे नोएडा पहुंची और स्थानीय पुलिस के साथ सेक्टर-78 स्थित हाइड पार्क सोसायटी में रह रहे अंग्रेजी केप्रोफेसर हनी बाबू एमटी के फ्लैट की तलाशी ली। भीमा कोरेगांव मामले में नोएडा में रहने वाले दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर हनी बाबू एमटी के घर पुणे पुलिस की छापेमारी पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं। हनी बाबू का कहना है कि बगैर सर्च वारंट के पुलिस घर पर आई और छह घंटे तक जांच की।

सुबह साढ़े छह बजे करीब 20 लोग उनके फ्लैट पर आ गए। इनमें चार-पांच लोग पुलिस ड्रेस में थे। बाकी सभी सादे कपड़ों में थे। जब पूछा गया तो इन लोगों ने बताया कि पुणे पुलिस से हैं। जबकि इनके पास कोई सर्च वारंट नहीं था। इसके बाद भी 12:30 बजे दिन तक फ्लैट के सभी कमरों को छान मारा। लैपटॉप, इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस लेकर कुछ किताबें साथ ले गए। इस दौरान ई मेल आईडी व सोशल नेटवर्किंग साइट के ईमेल बदलवा दिए। इसी दौरान मंगलवार को प्रोफेसर हनी बाबू की पत्नी ने भी ट्वीट कर पुणे पुलिस की छापेमारी की जानकारी दी। गौरतलब है कि इस मामले में पुणे में अलग-अलग धाराओं में दर्जनों लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज है। इसी सिलसिले में हनी बाबू के फ्लैट में छापेमारी हुई। इस कार्रवाई की विडियो रिकॉर्डिंग भी की गई। 

Related posts

राहुल गांधी ने स्वीकार किया सत्यपाल मलिक का न्योता, पूछा-कब आ सकता हूं कश्मीर?

Manager TehelkaMP

रॉबर्ट वाड्रा को अदालत ने दी राहत… मिली विदेश जाने की अनुमति…..

gyan singh

शिवम के परिजनों से मिलने पहुंचे शिवराज.. बोले- दिव्यांग मां-बाप के इकलौते बेटे को मार डाला

News Desk

Leave a Comment