देश

एससी-एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट ने तुरंत गिरफ्तारी का फैसला लिया वापस…

एजेंसी। उच्चतम न्यायालय ने अनुसूचित जाति और जनजाति (उत्पीड़न से संरक्षण) कानून के तहत गिरफ्तारी के प्रावधानों को हलका करने संबंधी शीर्ष अदालत का 20 मार्च, 2018 का फैसला मंगलवार को वापस ले लिया।न्यायमूर्ति अरूण मिश्रा, न्यायमूर्ति एम आर शाह और न्यायमूर्ति बी आर गवई की पीठ ने केंद्र सरकार की पुनर्विचार याचिका पर यह फैसला सुनाया। पीठ ने कहा कि समानता के लिये अनुसूचित जाति और जनजातियों का संघर्ष देश में अभी खत्म नहीं हुआ है।

पीठ ने कहा कि समाज में अभी भी अजा-जजा वर्ग के लोग अस्पृश्यता और अभद्रता का सामना सामना कर रहे हैं और वे बहिष्कृत जीवन गुजारते हैं। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि संविधान के अनुच्छेद 15 के तहत अजा-जजा वर्ग के लोगों को संरक्षण प्राप्त है, लेकिन इसके बावजूद उनके साथ भेदभाव हो रहा है।इस कानून के प्रावधानों के दुरूपयोग और झूठे मामले दायर करने के मुद्दे पर न्यायालय ने कहा कि यह जाति व्यवस्था की वजह से नहीं, बल्कि मानवीय विफलता का नतीजा है।

Related posts

भ्रष्ट अफसरों पर कार्रवाई के बाद पीएम मोदी ने अब कर्मचारियाें पर ले सकते है यह बड़ा एक्शन

News Desk

प्याज के बाद अब तेल के दाम छू सकते है आसमान

News Desk

केजरीवाल का बड़ा एलान, अब किरायेदार भी लगवा सकेंगे अपना मीटर….

gyan singh

Leave a Comment