Uncategorized भोपाल

टैंकरों पर लगेंगे स्मार्ट ‘ताले’

भोपाल,तहलका एमपी-सीजी।capital भोपाल सहित इंदौर, उज्जैन, ग्वालियर, जबलपुर एवं सागर में बुंदेलखंड दुग्ध संघ के माध्यम से विभिन्न जिलों में दूध प्रदाय किया जाता है। दुग्ध संघ के पांचों प्लांट से प्रतिदिन 11 लाख लीटर से अधिक दूध प्रोसेस किया जाता है। इसके पहले यह दूध दुग्ध समितियों के जरिए शीतगृहों में एकत्र किया जाता है, फिर टैंकरों के माध्यम से संबंधित दुग्ध संघ प्लांट को भेज दिया जाता है। प्लांट तक पहुंचने के पहले टैंकरों से दूध चोरी होने एवं उसमें मिलावट की शिकायतें कई बार आ चुकी हैं इलेक्ट्रानिक लॉक की व्यवस्था लागू करने के लिए राज्य शासन ने सरकारी दूरसंचार कंपनी बीएसएनएल के साथ चर्चा की है।बीएसएनएल के मुख्य महाप्रबंधक महेश शुक्ल ने इस बात की पुष्टि की है कि राज्य सरकार दूध के टैंकरों में इस तरह के डिवाइस लगाना चाहती है, ताकि शीतगृह से चलने के बाद प्लांट तक उनका ताला कोई खोल न सके। ‘इलेक्ट्रानिक लॉक’ के संदर्भ में अभी अंतिम निर्णय होना बाकी है।इलेक्ट्रानिक लॉक लगने के बाद टैंकर का ताला खास तरह के पासवर्ड से ही खुलेगा। इससे टैंकरों के हर ‘मूवमेंट’ और लोकेशन पर नजर भी रहेगी। बताया जाता है अंतिम निर्णय होना बाकी है । टैंकरों में बीएसएनएल जीपीएस लगा चुका है। इससे शासन को पीडीएस के राशन वितरण में होने वाली अनियमितता और फर्जीवाड़े पर अंकुश लगाने में सफलता मिली है। स्मार्ट सिटी के तहत शहरों में लगे डस्टबिन व कचरा संग्रह करने वाली गाड़ियों में भी खास तरह के डिवाइस भी बीएसएनएल लगा चुका है। डस्टबिन में चिप लगाई गई है जो कि डिब्बे में कचरा भरने की सूचना कचरा संग्रह वाहनों और संबंधित कर्मचारियों को दे देती है।

Related posts

भोपाल एम्स के छात्रावास में मिला डेंगू का मरीज

News Desk

भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का विवादित बयान… बीजेपी नेताओं के निधन पर बोलीं साध्‍वी- विपक्ष करा रहा है जादू-टोना! ….. कहा मारक शक्ति का प्रयोग कर मार रहे भाजपा नेताओं को…

Administrator TehelkaMP

साध्वी के बयान पर शोभा ओझा का पलटवार, कहा प्रज्ञा कराएं इलाज

Administrator TehelkaMP

Leave a Comment