मध्यप्रदेश

सबकी आँखे नम कर रिटायर हुआ ये एएसआई, इससे अपराधी भी थर्राते थे…

बैतूल, तहलका एमपी-सीजी। बैतूल आरपीएफ थाना में तौनात एएसआई रैंक का स्निफर श्वान ‘जॉन’ साल 2009 से सेवा दे रहा है और 9 साल 10 माह के बाद वो सोमवार को रिटायर हो गया। ‘जॉन” को विदाई देने के लिए बाकायदा समारोह हुआ और जॉन को लाने पर फूलों की माला पहनाकर उसका स्वागत किया गया। जॉन रूटिन ड्यूटी करने के साथ-साथ ‘जॉन’ ने कॉमनवेल्थ गेम्स समेत कई महत्वपूर्ण व बड़े अवसरों पर भी निष्ठा के साथ अपने कर्त्व्यों का पालन करते हुए शांति-व्यवस्था बनाए रखने में महत्वपूर्ण योगदान दिया। डॉग के हैंडर एएसआई पूरनसिंह सल्लाम ने बताया कि जॉन को नागपुर के एनजीओ को दिया जाएगा। मैं अधिकारियों से निवेदन करूंगा कि डॉग को मुझे दिया जाए, ताकि रिटायर्ड के बाद इसकी मैं पूरे जीवन काल तक सेवा कर सकूं। कई वर्षों से डॉग जॉन मेरे साथ रहा है। दुख इस बात का है कि वह रिटायर हो रहा है।
ऐसा रहा जॉन का सफर

साल 2010 में कॉमनवेल्थ गेम्स में ड्यूटी लगी। नई दिल्ली में जॉन के साथ 40 दिनों तक ट्रेनों में चेकिंग अभियान चलाया गया। साल 2012 में परासिया में जॉन तैनात रहा। उस समय भी जॉन की कोई शिकायत नहीं मिली। साल 2013 में इलाहबाद कुंभ मेले में ड्यूटी लगाई गई थी। जॉन ने पूरे समय कुंभ मेले में रेलवे स्टेशन पर चैकिंग की जिम्मेदारी संभाली। साल 2014 में नागपुर में स्पेशल ट्रेनों की चैकिंग के दौरान ड्यूटी लगाई गई थी। साल 2015 में बैतूल स्टेशन पर चैकिंग के दौरान डॉग की मदद से 14 नग गांजे के पैकेट ट्रेन से बरामद किए गए। साल 2015 में रेल मंत्री के कार्यक्रम में जॉन की ड्यूटी लगाई गई थी। साल 2016 में 26 जनवरी के समय नागपुर परेड ग्राउंड में सुरक्षा की जिम्मेदारी जॉन को दी गई। साल 2017 में ट्रेनों में चेकिंग के दौरान 17 किलो गांजा जॉन की सहायता से जब्त किया था।

Related posts

स्वरोजगार शिविर में 60 से अधिक युवाओं ने लिया भाग

News Desk

एक और मामले में आकाश विजयवर्गीय की गिरफ्तारी

News Desk

सुरेन्द्र सिंह स्मृति शूटिंग चैम्पियनशिपः ऐश्वर्य प्रताप ने फिर लगाया स्वर्ण पर निशाना

News Desk

Leave a Comment