लाइफस्टाइल हेल्थ

पोषण का पावरहाउस है यह बीज…

तहलका एमपी-सीजी। कद्दू के बीज एक स्वस्थ नाश्ते के लिए एक आदर्श विकल्प हैं। ये सिर्फ स्वादिष्ट नहीं होते हैं, बल्कि स्वास्थ वर्धक भी होते हैं। इन बीजों को पोषण का पावरहाउस माना जा सकता है जिसमे विभिन्न प्रकार के पोषक तत्वों का खजाना पाया जाता हैं, जो कि समग्र स्वास्थ्य और शरीर के विकाश के लिए आवश्यक हैं। इसलिए आज हम कद्दू के बीज के फायदे और नुकसान के बारे में जानने वाले है कद्दू के बीज में मैंगनीज, मैग्नीशियम, फास्फोरस, तांबा, जस्ता, लोहा और प्रोटीन के साथ ही विटामिन ई, विटामिन k, विटामिन सी और विटामिन बी पाए जाते हैं। जहां कद्दू बेहद फायदेमंद सब्जी है, वहीं इसके बीजों में भी पोषक तत्वों का खजाना भरा हुआ हुआ होता है। शुगर के मरीजों के लिए तो ये सब्जी किसी अमृत से कम नहीं है। कद्दू के बीजों में जिंक की काफी मात्रा पायी जाती है। जिंक पुरुषों की स्‍पर्म गुणवत्ता को बढ़ाने के साथ महिलाओं में बांझपन जैसी समस्याओं को दूर कर सकता है। कद्दू के बीज खाने के फायदे अनेक है।

कद्दू के बीज खाने के फायदे
स्वस्थ दिल के लिए

कद्दू के बीज का सेवन करने से नियमित रूप से मैग्नीशियम का लगभग आधे हिस्से की पूर्ति हो जाती है जो बदले में शरीर की एक विस्तृत श्रृंखला को कई महत्वपूर्ण कार्यों को करने में मदद करता है। जब कोई व्यक्ति मैग्नीशियम की आवश्यक मात्रा लेता है तो एटीपी का उत्पादन जिससे हमें उर्जा मिलती है बढ़ता है आरएनए अणुओं के संश्लेषण, दिल की लयबद्ध पम्पिंग, दाँत और हड्डी के समुचित विकास और नसों और रक्त वाहिकाओं को आराम मिलता है। यह दिखाया गया है कि कद्दू के बीज खाने से नियमित रूप से रक्तचाप नियंत्रण में रहता है और दिल का दौरा और स्ट्रोक के जोखिम को भी कम करता है।

बनाएं मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली
कद्दू के बीज जस्ता का एक अच्छा स्रोत हैं, और इस बीज का एक औंस खनिज के लगभग 2 मिलीग्राम के बराबर होता है। जस्ता शरीर के लिए जरूरी है जैसे कि प्रतिरक्षा प्रणाली, कोशिकाओं की वृद्धि उचित नींद और आंख और त्वचा के स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है। यह इंसुलिन के स्तर को विनियमित करने और पुरुष यौन शक्ति को बेहतर बनाने में मदद के लिए भी जाना जाता है। मिट्टी के खनिज में कमी के चलते दुनिया भर के कई लोगों को इस लाभकारी खनिज की सही मात्रा नहीं मिलती है। ठंड और फ्लू अवसाद त्वचा की समस्याएं और मुँहासे और क्रोनिक थकान जैसे सामान्य स्वास्थ्य मुद्दों से निपटने के लिए दैनिक आहार में कद्दू के बीज का सेवन किया जा सकता है।

मधुमेह में
कद्दू के बीज का मधुमेह पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। कद्दू का बीज इंसुलिन को नियमित करता है और तनाव को कम करके मधुमेह की समस्या को रोकता है। मधुमेह के रोगी नाश्ते में प्रतिदिन 2 बड़े चम्मच भुने हुए कद्दू के बीज का सेवन कर सकते है।

कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में
ड्राई फ्रूट्स जिसमे कद्दू के बीज भी सामिल है ओमेगा -3 फैटी एसिड या अल्फा-लिनोलेनिक एसिड के स्रोत के रूप में जाना जाता है। यह सभी व्यक्तियों के शरीर के लिए आवश्यक है कद्दू के बीज में फाइटोस्टेरॉल होता है जो LDL के स्तर को कम करने के लिए जाना जाता है यह LDL को कम करके एथेरोस्लेरोसिस और रक्त को जमने से रोकता है। हर दिन कद्दू के बीज खाने से, एक अच्छे कोलेस्ट्रॉल का का निर्माण किया जा सकता है।

गठिया के लिए
कद्दू में एंटी-इंफ्लेमेटरी और दर्द को कम करने के गुण पाए जाते है कद्दू के बीज का तेल का उपयोग जोड़ों में लगाने से दर्द के साथ सूजन को भी कम करता हैं। गठिया की सूजन को कम करने के लिए, कद्दू के बीज के तेल से प्रतिदिन दो बार थोड़ी देर उस जगह की मालिश करें।

अच्छी नींद के लिए
ट्रिप्टोफैन एमिनो एसिड समूह के अंतर्गत आता है। जो कद्दू के बीज में बहुतायत में पाया एक प्रोटीन बिल्डिंग ब्लॉक है इस ट्रिप्टोफैन को शरीर द्वारा सेरोटोनिन में परिवर्तित किया जाता है जो बदले में मेलेटोनिन या स्लीप हार्मोन में परिवर्तित हो जाता है। जिन लोगों को अच्छी नींद लेने में परेशानी होती है वे वांछनीय परिणाम देखने के लिए बिस्तर पर जाने से पहले कुछ फल के टुकड़े के साथ कुछ कद्दू के बीज ले सकते हैं, कद्दू के बीज ट्रस्टफ़ोफ़ान की आवश्यक मात्रा के साथ शरीर की आपूर्ति करेंगे, जो सोने के हार्मोन में परिवर्तित हो जाएगा और रात भर में एक शांत नींद को बढ़ावा देगा।

रखे हड्डियों को स्वस्थ
कद्दू के बीज मैग्नीशियम का अच्छा स्त्रोत होता है, जो हड्डियोंको मजबूत बनाने और ऑस्टियोपोरोसिसके खतरे को कम करने में मदद करता है। रोजाना आधी मुट्ठी से भी कम कद्दू के बीज का सेवन करने से हड्डियों की कमजोरी को दूर किया जा सकता है।

प्रजनन क्षमता को बनाए बेहतर
आपको बता दें कद्दू के बीजों में जिंक की काफी मात्रा पायी जाती है। जिंक पुरुषों की स्‍पर्म गुणवत्ता को बढ़ाने के साथ महिलाओं में बांझपन जैसी समस्याओं को दूर कर सकता है। यदि नियमित आहार में कद्दू के बीजों को शामिल किया जाता है तो इससे प्रजनन क्षमता बेहतर होती है।

कद्दू के बीज खाने के नुकसान
कद्दू के बीज में कैलोरी की मात्रा अधिक होती है यदि आप वजन कम करने के लिए इसे खा रहे है तो कम मात्रा में इसका सेवन करें। इसके बीज में मौजूद पोषक तत्वों का अधिक लाभ लेने के लिए इन्हें कच्चा खाएं।

Related posts

एक गुणकारी जड़ी बूटी है मुलेठी…!

News Desk

200 से अधिक प्रकार की प्रजातियां पाई जाती हैं इस औषधीय पौधे की…

Administrator TehelkaMP

इलाज के रूप में अमृत के समान है गिलोय

Administrator TehelkaMP

Leave a Comment